24 C
Mumbai
Saturday, January 28, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

चित्रकूट जेल में आतंक को आतंक ने मार गिराया, गैंगवॉर में तीन बड़े अपराधियों का हुआ अंत

चित्रकूट : चित्रकूट जेल में आतंक, जेल में अपराधियों के बीच संघर्ष तीन बड़े अपराधी मारे गए. अंशु दीक्षित नाम के गैंगस्टर ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बड़े गैंगस्टर मुकीम काला और मेराजुद्दीन की जेल में हत्या कर दी। वहीँ इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले अंशु दीक्षित को जेल पुलिस ने मार गिराया। एक तरह से चित्रकूट जेल के अंदर 3 बड़े अपराधयों का अंत हो गया.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

चित्रकूट जेल में आतंक…! गुटों में संघर्ष
बताया जा है कि यह फायरिंग दो गुटों के बीच हुई। इस फायरिंग में जेल के अंदर दो कैदियों की हत्या कर दी गई। वहीं पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक कैदी की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक इनमें से एक कैदी मुख्तार अंसारी का करीबी था।

बंदियों को बनाया था बंधक
चित्रकूट जेल से मिली जानकारी के मुताबिक, अंशु दीक्षित पुत्र जगदीश जो जिला जेल सुल्तानपुर से प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरित होकर चित्रकूट में बंद है, ने शुक्रवार सुबह सहारनपुर से प्रशासनिक आधार पर आए बंदी मुकीम काला और बनारस जिला जेल से प्रशासनिक आधार पर आए मेराज अली को असलहे से मार दिया और पांच अन्य बंदियों को अपने कब्जे में कर लिया.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बंदियों को मारने की दे रहा था धमकी
ऐसे में जिला प्रशासन को सूचना दी गई. जेल प्रशासन के मुताबिक, चित्रकूट के डीएम और एसपी की ओर से मौके पर पहुंचकर बंदी को नियंत्रित करने का बहुत प्रयास किया गया, लेकिन वह पांच अन्य बंदियों को भी मार देने की धमकी देता रहा. प्रशासन का कहना है कि ”उसकी आक्रामकता और जिद को देखते हुए पुलिस की ओर से कोई विकल्प ना देखते हुए की गई फायरिंग में अंशु दीक्षित मारा गया.”

कुख्यात अपराधी था अंशु दीक्षित
अंशु दीक्षित पश्चिमी यूपी का कुख्यात अपराधी था. सीतापुर जिले के मानकपुर कुड़रा बनी का मूल निवासी अंशु लखनऊ विश्वविद्यालय में छात्र के रूप दाखिला लेने के बाद अपराधियों के संपर्क में आया था. साल 2008 में वह गोपालगंज (बिहार) के भोरे में अवैध असलहों के साथ पकड़ा गया था.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

जेल में कहाँ से आया असलहा?
जेल को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. मगर जेल की सुरक्षा में इतनी बड़ी सेंध कैसे लगी, बदमाश अंशु दीक्षित के पास पिस्टल कहां से आई? इस पर अफसर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं.

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here