संपादकीय Archives - MANVADHIKAR ABHIVYAKTI NEWS
28 C
Mumbai
Friday, November 25, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

संपादकीय

- Advertisement -

कोरोना के इस रूप का आखिर कौन जिम्मेदार ? 24 घंटे में आये एक लाख 68 हज़ार के पार नए मामले, मौत का आंकड़ा...

संपादक की कलम से.... जब पिछले वर्ष कोरोना काल में श्रमिक उत्थान संस्था के माध्यम से अध्यक्ष / संपादक रवि निगम द्वारा केंद्र/राज्य सरकार को...

हुजूर के ज्ञानचक्षु के खुले द्वार ! बोले ज्यादा टेस्टिंग से ही पाया जा सकता है पार !! – रवि जी. निगम

संपादक की कलम से.... हुजूर कहाँ है आपके ज्ञानी बाबा एण्ड कम्पनी, जो फारवरी में कोरोना को समाप्त होने का दावा करते फिर रहे थे,...

हुज़ूर के स्वास्थ मंत्री हाज़िर हो ! जनता ढूँढ रही, फरवरी में क्यों नहीं हुआ कोरोना खत्म, टूटे सारे रिकॉर्ड, नए मामले हुए एक...

संपादक की कलम से ज्ञात हो कि पिछले वर्ष जब कोरोना ने देश में दस्तक दिया तो हुज़ूर ने जनता कर्फ़्यू लगाया और उसके पश्चात...

देश के रत्न और देश भक्त सरकार के साथ, अन्नदाता के साथ देश की जनता ? केरल के लोगों ने सचिन के तस्वीर पर...

देश के रत्न और देश भक्त सरकार के साथ ? निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे संपादक की कलम से – वाकई...

SC का संज्ञान लेना जरूरी – गणतंत्र दिवस पर जो हुआ क्या वाकई वो किसानों द्वारा किया गया ? क्या ये आंदोलन को ध्वस्त...

गणतंत्र या गनतंत्र ? क्षेत्रीय जनता या हिंदू सभा ? निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे नई दिल्ली: नए कृषि कानूनों...

संपादक की कलम से – हुजूर ने कमाई का एक और तरीका ढूँढा, LPG गैस में तत्काल कोटा 30-60 मिनट में डिलीवरी, फिर समान्य...

LPG गैस सिलेंडर की तत्काल बुकिंग के लिए दिन में होगा एक फिक्स टाइम    जागरूक मतदाता जागो और समझो अपनी सरकार की नीति को ‌‌- वाह!...

जनता कुछ विषेश गणमान्यों से पूछ रही सवाल, वाकई में कोरोना फरवरी में खत्म हो जायेगा ? पढें दावों का पोल खोल पोस्टमार्टम

-रवि जी. निगम आज देश की जनता बडे असमंजस की स्थिति से गुजर रही कि हम प्राधानमंत्री जी के दावे पर विश्वास करें कि ‘जब...

मुंबई पुलिस, कूपर अस्पताल और महाराष्ट्र सरकार की साख को धब्बा लगाने वाले दूर-दूर तक अफवाह फैलाने को मांफी नहीं मांगनी चाहिये ?

मुंबई - क्या सुशांत मामले में बट्टा लगाने वालों को माँफी नहीं मांगनी चाहिये ? -रवि जी. निगम मुंबई – क्या चीख-चीख कर चिल्लाने से सच को झुठलाया...

हाथरस गैंगरेप – तीसरी आंख से क्यों डर लगता है हुज़ूर ? क्या जनता लाईव देखेगी और सुनेगी इस लिये ?

-रवि जी. निगम आपकी अभिव्यक्ति – हुज़ूर ‘मानवाधिकार अभिव्यक्ति’ के माध्यम से जनता जानना चाहती है कि पहले एसआईटी ने नाम पर क्योंकर विपक्ष और मीडिया को पीडित...
- Advertisement -

ताजा खबर - (Latest News)

- Advertisement -