29 C
Mumbai
Friday, March 1, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

अब मध्य प्रदेश में हेडगेवार और दीनदयाल उपाध्याय के विचार पढ़ेंगे मेडिकल स्टूडेंट्स

दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक, मध्य प्रदेश में मेडिकल छात्रों के फाउंडेशन कोर्स में आरएसएस और भाजपा नेताओं के विचारों को इसी सत्र से बतौर लेक्चर जोड़ा जा रहा है। इसमें छात्रों के बौद्धिक विकास के लिए देश के विचारकों के सिद्धांत और वैल्यू बेस्ड मेडिकल एजुकेशन को शामिल किया जाएगा।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

आरएसएस के संस्थापक हेडगेवार, जनसंघ के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय के अलावा जिन विचारकों को चुना गया है उनमें आयुर्वेद विषारद के रूप में विख्यात महर्षि चरक, सर्जरी के पितामह आचार्य सुश्रुत के साथ, स्वामी विवेकानंद और डॉ. भीमराव आंबेडकर शामिल हैं।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

मध्यप्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने 25 फरवरी को इसके लिए एक नोटशीट विभाग के अधिकारियों को भेजी थी। वहीं सुझाव मांगने पांंच सदस्यों की समिति बनाई गई थी। उन्हीं सुझावों के आधार पर विचारों के सिद्वांत, जीवन दर्शन के महत्व वाले लेक्चर को फाउंडेशन कोर्स में पढ़ाए जाने के लिए शामिल किया गया है। ये लेक्चर फाउंडेशन कोर्स के मेडिकल एथिक्स टॉपिक का हिस्सा होंगे।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बता दें कि एमबीबीएस का कोर्स नेशनल मेडिकल काउंसिल तय करती है। काउंसिल हर कोर्स के टॉपिक बताती है मगर उस टॉपिक में क्या लेक्चर होगा ये राज्य का मेडिकल एजुकेशन विभाग तय कर सकता है। जो नए लेक्चर जोड़े गए हैं वो ‘मेडिकल एथिक्स’ टॉपिक का हिस्सा हैं। ये टॉपिक फाउंडेशन कोर्स में पढ़ाया जाता है। ये फाउंडेशन कोर्स एमबीबीएस करने वाले छात्रों के एडमिशन के फौरन बाद उन्हें पढ़ाया जाता है। इसके लिए एक माह का कोर्स राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन लेने वाले एमबीबीएस के छात्रों को पढ़ना होता है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here