24 C
Mumbai
Saturday, January 28, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

आपकी अभिव्यक्ति – महाराष्ट्र में कोरोना बेकाबू, 68631 नए मामले, 503 लोगों की मौत, जल्द से जल्द सरकार करे श्रमिक उत्थान के सुझाव पर विचार

आपकी अभिव्यक्ति –

हाथरस गैंगरेप – तीसरी आंख से क्यों डर लगता है हुज़ूर ?
Ravi G. Nigam

आपकी अभिव्यक्ति – मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी को राजनीति नफा नुक्सान को त्याग श्रमिक उत्थान के सुझावों पर विचार करना चाहिये, यही एक मात्र विकल्प है जो राज्य में कोरोना से लड़ने में सहायक सिद्ध हो सकता है, जो कोरोना नियंत्रण के साथ ही साथ राज्य में आर्थिक व्यवस्था को भी बल पहुँचाने में कारगर साबित होगा, इससे न सिर्फ लोगों की सुरक्षा ही पुख्ता होगी बल्कि आर्थिक रुप से चरमराई अर्थ व्यवस्था को भी बल दिया जा सकेगा, अन्यथा राज्य दिन -ब- दिन आर्थिक ही नहीं सामाजिक पृष्ठभूमि पर भी कमजोर होता चला जायेगा, जो किसी भी शासक / शासन की विफलता का परिचायक होगा।

सरकार को कुछ नहीं तो कम से कम मानवता के परिदृश्य से ही इस सुझाव पर विचार करना चाहिये, वैसे चुनी हुई सरकार को पूर्ण अधिकार होता है कि वो अपनी जनता की सुरक्षा और जीवकोपार्जन की कैसी व्यवस्था प्रदान करनी है, या करेगी ये उसकी ही जवाबदेही होती है। सफल या असफल का निर्णय तो जनता ही करने वाली होती है कोई और नहीं ! लेकिन ये भी सच है कि एक भी व्यक्ति की जान जाती है तो ये केन्द्र और राज्य सरकरों के लिये सबसे बड़ा दुर्भाग्य है।

क्योंकि ये महामारी को आकर एक वर्ष से ज्यादा हो गये क्योंकर सरकरों ने पूर्व में पुख्ता इंतजामात नही किये ? जब पूर्व से ही इस पर आगाह किया गया हो ? यदि अभी भी सचेत नही हुये तो अत्यन्त भयावह दुष्परिणाम भोगने पड़ सकते हैं कोरोना और भी विस्फोटक होता चला जायेगा, तब लकीर पीटने से कुछ नहीं होगा, माना कुछ ज्ञानी अपने ज्ञान के माध्यम से इस सुझाव को मानने से मना कर रहे हों, तो महोदय उनसे ही कोई पुख्ता सुझाव अवश्य लेकर क्रियान्वन करें यदि उनका सुझाव कारगर प्रतीत हो रहा हो, लेकिन नागरिकों की जान और माल दोनों की रक्षा और सुरक्षा प्रदान करना सरकार का ही दायित्व होता है।

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना का संक्रमण डराने लगा है. यहां हर दिन रिकॉर्ड टूट रहे हैं. महाराष्ट्र में कोरोना की बेकाबू रफ्तार से बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 68631 नए केस सामने आए और 503 लोगों की मौत हो गई. 24 घंटे में 45,654 मरीज डिस्चार्ज भी किये गए. इस तरह अब तक कुल 31,06,828 लोग डिस्चार्ज किए जा चुके हैं.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

मुंबई में भी कोरोना का कहर जारी है. मुंबई में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 8479 नए केस सामने आए. साथ ही 53 लोगों की मौत हो गई. मुंबई में अब कोरोना के 87698 एक्टिव केस हो गए हैं. कोरोना के चलते यहां अबतक 1188 बिल्डिंग्स को सील किया जा चुका है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

महाराष्ट्र में 1 मई की सुबह 7 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लागू है. इस दौरान जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही बाहर निकलने की इजाजत है. ऐसे में नाकेबंदी के दौरान जरूरी सेवाओं में लगे लोग और एंबुलेंस ट्रैफिक जाम में फंस जाती हैं. इससे बचने के लिए मुंबई पुलिस ने एक पहल की है. पुलिस ने जरूरी सेवाओं में लगे लोगों के लिए कलर कोड जारी किए हैं.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

मुंबई पुलिस कमिश्नर हेमंत नगराले ने बताया कि तीन कलर कोड जारी किए गए हैं, जो जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को अपनी गाड़ियों पर लगाकर रखना होगा. हेल्थ वर्कर्स, मेडिकल और अस्पतालों से जुड़े लोगों को रेड कलर लगाना होगा. वहीं, सब्जी, फल, दूध जैसी सेवाओं में लगे लोगों के लिए ग्रीन कलर होगा. जबकि सरकारी कर्मचारियों के लिए येलो कलर जारी किया गया है.

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here