27 C
Mumbai
Saturday, February 24, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

कई राज 18 अक्तूबर में छिपे: आफताब के कंधे पर सुबह 4.30-7.30 के बीच था बैग, कहां गया था हत्या के पांच माह बाद ?

श्रद्धा हत्याकांड में जैसे-जैसे पुलिस की जांच आगे बढ़ रही रोज नए खुलासे हो रहे हैं। शनिवार की सुबह जांच में जुटी पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिले हैं। फुटेज में आरोपी आफताब देखा जा सकता है। आरोपी आफताब ने श्रद्धा की हत्या करने के बाद शव के कुछ टुकड़े उसी वक्त फेंक दिए थे, जबकि सिर, धड़ और हाथ-पैरों की उंगलियों को फ्रिज में रखा था। आरोपी आफताब ने इन टुकड़ों को श्रद्धा की हत्या के ठीक पांच महीने बाद 18 अक्तूबर को यानी करीब पांच महीने बाद जंगल में फेंका था। आरोपी एक ही दिन में इन टुकड़ों को फेंककर आया था। ऐसा आफताब ने गुरुवार को ही पुलिस पूछताछ में कबूल कर लिया था। अब मिले सीसीटीवी फुटेज ने उसके कबूलनामे पर मुहर लगा दी है।

उस दिन आरोपी आफताब ने सुबह 4:30 बजे से 7:30 बजे तक चार चक्कर लगाए थे। इस दौरान आरोपी सीसीटीवी में कैद हो गया था। पुलिस ने सीसीटीवी को जब्त कर लिया है। सीसीटीवी फुटेज में वह बैग लटका कर जाता हुआ दिखाई दे रहा है।

श्रद्धा की हत्या करने के बाद उसकी गुरुग्राम स्थित कॉल सेंटर में नौकरी लग गई थी। वह कॉल सेंटर में रात में नौकरी करता था। दिन में उसकी दिल्ली वाली महिला दोस्त आ जाती थी। इस कारण वह शव के टुकड़ों को फेंक नहीं पाया।

पुलिस को मिली हथियारनुमा चीज
जांच में सामने आया है कि श्रद्धा हत्याकांड में आरोपी ने हेवी शार्प कटिंग वेपन्स का इस्तेमाल किया था। दिल्ली पुलिस की सख्त पूछताछ में आफताब अब सच बोलने लगा है। श्रद्धा हत्याकांड मामले में आफताब ने घर से कई अहम सुराग बरामद करवाए हैं। आफताब की निशानदेही पर पुलिस को घर से हथियार नुमा चीज मिली है। पुलिस को शक है कि शव के टुकड़े करने में इसका भी इस्तेमाल किया गया है।

आफताब को इंटरनेट के जरिए यह पता था कि किसी मरे हुए इंसान के शव के टुकड़े करते वक्त खून का फव्वारा जरूर निकलता है। वो खून के छींटें कुछ फीट तक जाकर गिर सकते हैं, इसलिए उसने शव के टुकड़े करने वाली जगह के आसपास कई फिट तक खास एसिड से तमाम खून के धब्बे मिटा दिए।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here