29 C
Mumbai
Friday, March 1, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

कोलकाता में ED की रेड व्यापारी के घर, नोटों का मिला पहाड़; मंगाई गई कैश गिनने के लिए मशीनें

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मोबाइल एप्लिकेशन धोखाधड़ी मामले की जांच के सिलसिले में कोलकाता में एक व्यापारी के ठिकानों पर छापेमारी की है। अधिकारियों का कहना है कि यह रेड छह स्थानों पर की जा रही है। बताया जा रहा है परिसरों से कैश का अंबार मिला है।अभी तक सात करोड़ रुपये की गिनती की जा चुकी है। काउंटिग की जा रही है। कैश गिनने के लिए नोट गिनने की मशीनें मंगाई गई हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, ईडी अधिकारियों की एक टीम ने बैंक अधिकारियों के साथ शनिवार को कोलकाता के गार्डन रीच इलाके में कारोबारी नासिर खान के परिसरों में छापेमारी की और सात करोड़ रुपये नकद और संपत्ति के दस्तावेज जब्त किए। ईडी सूत्रों का कहना है कि छापेमारी चल रही है और बरामद नकदी की सही मात्रा का पता लगाने के लिए कैश काउंटिंग मशीनें लाई गई हैं।

कारोबारी के आवास पर ईडी की छापेमारी के बीच इलाके में केंद्रीय बलों को भारी मात्रा में तैनात किया गया है। यह तलाशी उन कारोबारियों पर चलाए जा रहे अभियान का हिस्सा है जिन पर ईडी को धनशोधन में शामिल होने का संदेह है।

दरअसल, फेडरल बैंक के अधिकारियों ने आमिर खान नामक शख्स समेत अन्य के खिलाफ मोबाइल गेमिंग ऐप के जरिए लोगों के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज की थी। जिसके बाद मामले में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत मामला दर्ज किया गया था।

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, ” मोबाइल गेमिंग ऐप में शुरुआती अवधि के दौरान, लोगों को कमीशन के साथ इनाम के तौर पर लुभाया गया। इससे लोग इस ऐप पर आकर्षित हुए। फिर लोगों ने ज्यादा कमीशन पाने के लिए बड़ी मात्रा में निवेश करना शुरू किया और फिर ऐप संचालकों ने ठगी का खेल शुरू किया।”

कथित धोखेबाजों के तौर-तरीकों का विवरण देते हुए, ईडी ने कहा, “फिर लोगों से काफी ज्यादा रकम इकट्ठा करने के बाद, अचानक उक्त ऐप में अपग्रेडेशन के नाम पर निकासी बंद कर दी गई। इसके बाद लोगों की प्रोफाइल जानकारी सहित कई डेटा ऐप सर्वर से हटा दिया गया। तब जाकर लोगों को मालूम हुआ कि उनके साथ धोखाधड़ी हुई है।”

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here