28 C
Mumbai
Sunday, December 4, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

त्रिदंडीजी महाराज: छत्तीसगढ़ सरकार गांधी के मुद्दे पर दोहरा चरित्र अपना रही है जल्द करे रिहा

गांधी को राष्ट्रपिता मानने से इंकार करने एवं हुतात्मा पंडित नाथूराम गोडसे के समर्थन में अपने विचार रखने वाले हिन्दू संत कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी को शर्मनाक और छत्तीसगढ़ सरकार पर दोहरा चरित्र अपनाने का आरोप लगाते हुये अखिल भारत हिन्दू महासभा चेतावनी दी है कि संत कालीचरण को सषर्त जल्द रिहा न किया गया तो हिन्दू महासभा सड़कों पर उतरने के लिये बाध्य होगी।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष त्रिदंडीजी महाराज ने आज यहां जारी अपने बयान में कहा है कि भारत को डायन कहने वाले आजाद घूम रहे हैं, सीता माता व भगवान श्रीराम को गालियां देने वाले को कोई कानून कुछ नहीं कहता, तिरंगा जलाने वाले भी बच जाते हैं, सनातन सभ्यता संस्कृति को खण्डित करने वाले भी शासन के संरक्षण में चल रहे हैं और गांधी जो सैंकड़ों क्रांतिकारी देशभक्तों व बंटवारे पर लाखों लोगों का हत्यारा है उसे कालीचरण महाराज जी ने राष्ट्रपिता व महात्मा नहीं माना तो गिरफ्तार किया जायेगा।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

हिन्दू महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी त्रिदण्डी जी महाराज ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि ऐसा दोहरा चरित्र शासन प्रशासन में नहीं चलने देंगे। स्वामी त्रिदण्डी जी महाराज ने शासन प्रशासन से मांग की है कि कालीचरण महाराज को बिना शर्त शीघ्र रिहा करें अन्यथा हिन्दू महासभा देश भर में उग्र आंदोलन करने पर विवश होगी तथा जेलों को भरने हेतु सभी जिलों में क्रांतिकारी हिन्दू महासभाई सड़कों पर उतर कर धरना प्रदर्शन करेंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष त्रिदंडीजी ने आगे कहा कि अभी तो एक दो ही योद्धा मैदान में उतरे हैं जिसमें सरकार का ये हाल है यदि लाखों हिन्दू महासभा योद्धाओं ने मोर्चा संभाला तो पुलिस भी कम पड़ेगी, राष्ट्रीय अध्यक्ष त्रिदण्डी जी महाराज ने सभी हिन्दू महासभा क्रांतिकारियों को जेल भरो

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here