28 C
Mumbai
Friday, October 22, 2021

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

योगी सरकार को सच से परहेज, कानपुर के पत्रकारों के खिलाफ सच दिखाने पर मुकदमा दर्ज

कानपुर – कानपुर के पत्रकारों के खिलाफ सच दिखाने पर मुकदमा, कानपुर देहात जिले से सूचना आ रही है कि खबर दिखाए जाने से नाराज बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) ने पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. ‘के न्यूज’ नामक चैनल के पत्रकारों ने कानपुर देहात में छात्रों को बिना स्वेटर खुले आसमान के नीचे देर तक खड़ा रखे जाने की खबर दिखाई थी. इस खबर से नाराज डीएम के आदेश पर बीएसए सुनील दत्त ने पत्रकारों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी है.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

इस पूरे प्रकरण पर भड़ास एडिटर यशवंत लिखते हैं-

Yashwant Singh-

यूपी में तो जोगी बाबा के शासन में गजबे हो रहा है. सरकारी प्रोग्राम में बच्चे स्वेटर जैकेट पहनकर गए लेकिन उन्हें आधी ड्रेस में सजाकर फील्ड में उतार दिया गया. वे ठंढ से कांपते रहे. टीचर को देखिये न कोई मास्क न कोई एहतियात, गर्म कपडों में फिट . यही बात एक टीवी चैनल वाले ने दिखा दी उसके तीन पत्रकारों पर मुकदमा हो गया.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें 

पत्रकारों के खिलाफ सच दिखाने पर मुकदमा, हद है भाई.

फासिज्म इसी को कहते हैं. सच को दबाइए और झूठ को इतना प्रोपेगेट करिए कि लोग उसे सच मानने लगें. जिन तीन पत्रकारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है उनके लिए न एडिटर्स गिल्ड बोलेगा और न लखनऊ के पत्रकार संगठन आगे आएंगे. सब चुप्पी साध लेंगे. पत्रकारिता पर हमला इन्हें तभी समझ में आता है जब कोई बड़ा पत्रकार सत्ता-शासन का टारगेट बन जाए.

कानपुर के तीन पत्रकारों के खिलाफ झूठा मुकदमा लिखाने वाले डीएम और बीएसए को ही सस्पेंड किए जाने की मांग की जानी चाहिए ताकि ये आइंदा ऐसी हरकत न करें. कहने को ये जनता के सेवक हैं लेकिन खुद को मालिक मान बैठे हैं. नेताओं के शह पर जब अफसरों के दिमाग इस कदर खराब होने लगे तो समझ जाइए कि जंगल राज आ चुका है.

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here