31 C
Mumbai
Monday, May 27, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

भारतीय तट रक्षकों ने पकड़ी मछली पकड़ने वाली नाव, 11 लाख नकद बरामद, डीजल की तस्करी में शामिल होने का शक

भारतीय तट रक्षकों ने महाराष्ट्र तट के पास से मछली पकड़ने वाली एक नाव पकड़ी है, जिसमें से नकदी जब्त की गई है। रत्रा मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान जारी कर बताया कि टीम ने नाव से 11.46 लाख की नकदी जब्त की है। टीम ने आशंका जताई है कि यह नकदी डीजल की तस्करी के बदले में भारतीय ओएसवी ने दी होगी। 

बयान में बताया गया कि आईसीजी ने नाव को मुंबई से 83 समुद्री मील दूर उत्तर पश्चिम में डीजल तस्करी में शामिल नाव को पकड़ा है। जहाज को बुधवार तड़के मुंबई लाया गया। राजस्व खुफिया निदेशालय, सीमा शुल्क और राज्य पुलिस द्वारा संयुक्त जांच की जा रही है। सीमा शुल्क विभाग द्वारा मिली जानकारी के आधार पर आईसीजी क्षेत्रीय मुख्यालय (पश्चिम) ने एक ऑपरेशन शुरू किया था। अभियान में आईसीजी की दो फास्ट पेट्रोलिंग नाव और एक इंटरसेप्टर नाव शामिल थी। बयान के अनुसार, शुरुआती जांच में सामने आया है कि पांच चालक दल के साथ नाव 14 अप्रैल को तस्करी के इरादे से मांडवा बंदरगाह से रवाना हुई थी।

पोरबंदर से 50 किमी दूर बल ने पांच मछुआरों को भारतीय तटरक्षक बल ने बचाया
हाल ही में भारतीय तटरक्षक बल ने पोरबंदर से 50 किलोमीटर दूर बीच समुद्र से मछली पकड़ने वाली एक नाव से पांच मछुआरों को सुरक्षित बाहर निकाला था। बल ने बताया था कि तटरक्षक जिला मुख्यालय-1 (दक्षिण गुजरात दमन और दीव) के समुद्री बचाव उप केंद्र को एक कॉल आया, जिसमें डूबती हुई नाव और मछुआरों के बारे में बताया गया था। जानकारी मिलते ही आईसीजी जहाज सी-16 तुरंत पोरबंदर के लिए रवाना हुई। आईसीजी ने प्रेमसागर जहाज के चालक दल में शामिल सभी पांच लोगों को बचा लिया और उन्हें चिकित्सा सहायता प्रदान की। इसके बाद उन्हें पोरबंदर लाया गया और मत्स्य पालन विभाग को सौंप दिया गया। 

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here