28 C
Mumbai
Friday, October 22, 2021

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

चमोली – 28 शवों को किया बरामद, 170 लोग अभी भी लापता, जलविद्युत परियोजना की सुरंग में फंसे 30—35 लोगों को बाहर निकाला गया

शवों की तलाश जारी है

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

देहरादून: शवों की तलाश जारी, उत्तराखंड के चमोली जिले में ऋषिगंगा घाटी में हिमखण्ड फटने से आई बाढ़ में मरने वालों की संख्या मंगलवार को 28 तक पहुंच गई वहीँ बाढ में अभी करीब 170 अन्य लोग लापता हैं | एनटीपीसी की क्षतिग्रस्त तपोवन—विष्णुगाड जलविद्युत परियोजना की सुरंग में फंसे 30—35 लोगों को बाहर निकालने के लिए सेना, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल , भारत तिब्बत सीमा पुलिस और राज्य आपदा प्रतिवादन बल का संयुक्त बचाव और राहत अभियान युद्धस्तर पर जारी रहा।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें

रविवार को ऋषिगंगा घाटी में पहाड़ से गिरी लाखों मीट्रिक टन बर्फ के कारण ऋषिगंगा और धौलीगंगा नदियों में अचानक आई बाढ में अभी करीब 170 अन्य लोग लापता हैं । एसडीआरएफ के अधिकारियों ने बताया कि अभी तक 28 व्यक्तियों के शव विभिन्न एजेंसियों द्वारा अलग—अलग स्थानों से बरामद हो चुके हैं ।

एसडीआरएफ ने कहा कि उनके तलाशी दस्ते रैंणी, तपोवन, जोशीमठ, रतूडा, गौचर, कर्णप्रयाग, रूद्रप्रयाग क्षेत्रों में अलकनंदा नदी में शवों की तलाश कर रहे हैं । सोमवार शाम को आपदाग्रस्त तपोवन क्षेत्र पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंगलवार सुबह क्षेत्र का हवाई सर्वेंक्षण किया और हादसे में घायल हुए लोगों से अस्पताल में मुलाकात की और उनका हालचाल जाना।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here