32 C
Mumbai
Sunday, June 16, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

स्वास्थ्य विभाग: कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनजर देश में तीन से चार महीने क्रिटिकल

केंद्र सरकार ने कोरोना की तीसरी लहर के चेतावनी जारी करते हुए कहा कि भारत के 100- 125 दिन काफी क्रिटिकल हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल और नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने देश में कोरोना की स्थिति की जानकारी देते हुए बताया कि दुनिया कोरोना की तीसरी लहर की ओर बढ़ रही है, म्यानमार,इंडोनेशिया,बांग्लादेश और मलेशिया में कोरोना के केस बढ़ रहे हैं. इस स्थिति को भारत में लोगों को समझने की जरूरत है और उस हिसाब से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की आवश्यकता है.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

उन्होंने कहा कि वेव से ज्यादा वेव की इंटेंसिटी देखना जरूरी है. वेव थर्ड भी हो सकती है और वेव फोर्थ भी हो सकती है. वेव की इंटेंसिटी वैक्सीनेशन और कोविड अप्रोप्रियट बिहेवियर पर निर्भर करेगी. लेकिन अभी तक सेकंड वेव ही खत्म नही हुई है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

उन्होंने कहा, ICMR के मुताबिक कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज से मौत का खतरा 95% कम हो जाता है और एक डोज से 82% तक मौत का खतरा घट जाता है. तमिलनाडु पुलिसकर्मियो पर की गई एक स्टडी के आधार पर इसका दावा किया गया. ये स्टडी इस साल 1 फरवरी से 14 मई तक तमिलनाडु के पुलिसकर्मियों पर की गई.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

तमिलनाडु में 67673 पुलिसकर्मियों ने वैक्सीन की दोनों डोज ली जबकि 32792 ने सिर्फ एक डोज ली.17059 ऐसे थे जिन्हें एक भी डोज नहीं लगी थी. इनमें से 31 लोगों की मौत हो गई. 4 लोग ऐसे थे जिन्हें दोनों डोज लगी थी. उन्होंने बताया कि स्टडी में पाया गया कि वैक्सीनेटेड लोगों को अस्पताल जाने की नौबत 77% कम हो जाती है. ऑक्सीजन की जरूरत 95% कम हो जाती है. आईसीयू की जरूरत 94% कम हो जाती है.

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here