24 C
Mumbai
Saturday, January 28, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

12वीं की परीक्षा की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में तीन जून तक के लिए टली, कोर्ट ने कहा 2 दिन में केंद्र ले अंतिम निर्णय

12वीं की परीक्षाओं पर फैसले में सुनवाई शुरू होते ही स्थगित

नई दिल्ली: 12वीं की परीक्षा के लिए केंद्र 2 दिन में ले अंतिम निर्णय, सुप्रीम कोर्ट ने सीबीएसई और आईसीएसई की 12वीं की परीक्षाओं को रद्द करने की मांग करने वाली याचिका पर आज सुनवाई की. बोर्ड परीक्षाओं पर फैसले को लेकर सुनवाई शुरू होते ही स्थगित हो गई. सुप्रीम कोर्ट ने अटॉर्नी जनरल के तर्क पर कहा कि केंद्र सरकार इस पर निर्णय ले. अटॉर्नी जनरल से कोर्ट ने कहा कि पिछले साल जिस तरह से केंद्र सरकार ने निर्णय लिया था. इस साल क्यों नहीं किया जा रहा है.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

सरकार 2 दिन में अंतिम फैसला ले लेगी

अटॉर्नी जनरल वेणुगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि सरकार 2 दिन में अंतिम फैसला ले लेगी. सुनवाई गुरुवार के लिए टाल दी जाए. हम इस दिन कोर्ट को आखिरी फैसले से अवगत कराएंगे.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

पिछले वर्ष की नीति का पालन नहीं करने का इरादा है तो

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, सीबीएसई से कहा है कि अगर उसने परीक्षा को आगे बढ़ाने का फैसला किया है और परीक्षा रद्द करने के लिए अपनी पिछले वर्ष की नीति का पालन नहीं करने का इरादा है तो उसके लिए उचित कारण भी बताएं.

छोटी अवधि की परीक्षाओं के बारे में प्रस्तावित विकल्प

आपको बता दें कि अधिकतर राज्य कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित करने के पक्ष में हैं. कई राज्यों ने सीबीएसई द्वारा अगस्त में प्रमुख विषयों के लिए छोटी अवधि की परीक्षाओं के बारे में प्रस्तावित विकल्प का समर्थन किया है.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बोर्ड कक्षा 9, 10 और 11 के रिजल्ट

सीबीएसई समेत अन्य बोर्ड द्वारा कक्षा 12वीं की परीक्षा रद्द होने की स्थिति में विकल्पों पर विचार किया जा रहा है. इसमें एक प्रस्ताव यह भी है कि सीबीएसई बोर्ड कक्षा 9, 10 और 11 के रिजल्ट के आधार पर 12वीं में छात्रों को नंबर दे सकता है. हालांकि, मिली जानकारी के अनुसार अधिकतर राज्यों ने अगस्त में प्रमुख विषयों के लिए छोटी अवधि की परीक्षाओं के बारे में सीबीएसई द्वारा प्रस्तावित विकल्प का समर्थन किया है.

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here