24 C
Mumbai
Saturday, January 28, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

अंतरराज्यीय बस सेवा बंद कीं महाराष्ट्र-कर्नाटक रोडवेज ने, पुलिस अलर्ट जारी सीमा विवाद को लेकर

कर्नाटक व महाराष्ट्र के बीच सीमा विवाद गहरा रहा है। इसे लेकर पुलिस ने अलर्ट जारी किया है। इसे देखते हुए महाराष्ट्र सड़क परिवहन निगम (MSRTC) ने कर्नाटक के लिए बसों का संचालन रोक दिया है। इसके बाद उत्तर पश्चिम कर्नाटक सड़क परिवहन निगम (एनडब्ल्यूकेआरटीसी) ने भी बेलगावी जिले की सीमा से लगते क्षेत्रों में कुछ बसों को क्षतिग्रस्त किए जाने की खबरें आने के बाद महाराष्ट्र के लिए अपनी सेवाएं निलंबित कर दी।

इस बीच कर्नाटक में बसों पर हमले के खतरे की आशंका के कारण बुधवार को पुलिस ने अलर्ट जारी किया। इसके बाद एमएसआरटीसी ने कर्नाटक जाने वाली अपनी बसों का संचालन स्थगित करने का फैसला किया। सीमा विवाद को लेकर बुधवार को कर्नाटक के बेलगावी में उग्र प्रदर्शन किया गया था। इस दौरान महाराष्ट्र की बसों व ट्रकों पर पथराव की घटना सामने आई थी। 

महाराष्ट्र पुलिस द्वारा जारी अलर्ट में कहा गया है कि दोनों राज्यों के बीच सीमा विवाद को लेकर जारी आंदोलन के दौरान बसों पर हमले किए जा सकते हैं। एमएसआरटीसी ने कहा कि इस अलर्ट के आधार पर आगामी आदेश पर कर्नाटक जाने वाली रोडवेज बसों का संचालन रोका गया ह। पुलिस द्वारा बसों और यात्रियों की सुरक्षा की मंजूरी मिलने के बाद सेवाएं बहाल की जाएंगी। 

फडणवीस बोले- पवार साहब को कर्नाटक जाने की जरूरत नहीं
इससे पहले बेलगावी में ट्रकों व बसों पर पथराव के बाद महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि वे सीमा विवाद मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बात करेंगे। फडणवीस ने यह भी कहा था कि उनकी कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई से बात हुई है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि शरद पवार साहेब को कर्नाटक जाने की जरूरत न पड़े। उन्होंने दोनों राज्यों की जनता से भी अपील की कि वह शांति कायम रखे और कानून व्यवस्था अपने हाथ में न ले। फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र कानून व्यवस्था के लिए पहचाना जाता है। मैं राज्य के लोगों से आग्रह करता हूं कि वे सीमावर्ती इलाकों में शांति कायम रखें। 

फडणवीस ने अमित शाह को दी जानकारी
महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बात की। उन्हें पिछले एक सप्ताह में कर्नाटक के साथ हुए सीमा विवाद से जुड़े घटनाक्रम की जानकारी दी। शाह ने दशकों पुराने सीमा विवाद पर महाराष्ट्र के रुख पर उपमुख्यमंत्री की राय धैर्यपूर्वक सुनी। पिछले कुछ दिनों में सीमा विवाद बढ़ने के कारण दोनों राज्यों के सीमावर्ती इलाकों में तनाव पैदा हो गया है।

बोम्मई व शिंदे ने की बात
इस बीच, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई और महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे ने भी मंगलवार को फोन पर इस मुद्दे पर चर्चा की। दोनों सीएम ने इस बात पर सहमति जताई कि शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखनी चाहिए। बता दें, महाराष्ट्र कर्नाटक सीमा विवाद सुप्रीम कोर्ट में लंबित है। ताजा विवाद कर्नाटक के 850 गांवों में रहने वाले मराठी भाषियों के लिए महाराष्ट्र सरकार के प्रस्तावित पैकेज से पैदा हुआ है। 

इस पैकेज व सीमा विवाद पर बात करने के लिए महाराष्ट्र के दो मंत्री चंद्रकांत पाटिल व शंभुराज देसाई मंगलवार को बेलगावी जाने वाले थे। इससे कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका के चलते कर्नाटक सरकार के आग्रह पर उन्होंने यह यात्रा स्थगित कर दी है। कर्नाटक के सीएम ने शांति बनाए रखने की अपील के साथ कहा है कि राज्य के लोगों के हितों की रक्षा की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट व केंद्र सरकार के समक्ष मजबूती से पक्ष रखा जाएगा। 

कर्नाटक की एक बस पर काला पेंट फेंका
दो राज्यों के बीच सीमा मुद्दे पर जारी विरोध के बीच सोलापुर में स्थानीय संगठनों के लोगों ने कर्नाटक की एक बस पर काला पेंट छिड़का। इस दौरान मुख्यमंत्री बोम्मई का भी विरोध किया गया।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here