24 C
Mumbai
Saturday, January 28, 2023

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

कांग्रेस को झटका, सुधीर तांबे ने की चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा नामांकन के आखिरी दिन

महाराष्ट्र विधान परिषद के चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा झटका लगा है। पार्टी उम्मीदवार सुधीर तांबे ने गुरुवार को दौड़ से हटने की घोषणा की। तांबे ने कहा कि उनका बेटा वर्तमान में उनके निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ेगा। महाराष्ट्र में विधान परिषद के स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों के लिए चुनाव 30 जनवरी को होंगे। गुरुवार को नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन था।

पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट के बहनोई सुधीर तांबे पिछले तीन कार्यकाल (18 वर्ष) से महाराष्ट्र विधान परिषद में नासिक डिवीजन स्नातक निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और पार्टी ने उन्हें फिर से नामित किया गया था। चुनाव से हटने की घोषणा करते हुए तांबे ने कहा कि उनके बेटे सत्यजीत चुनाव लड़ेंगे क्योंकि पार्टी ने राजनीति में युवाओं को बढ़ावा देने का फैसला किया है। हालांकि, सत्यजीत तांबे ने गुरुवार को निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल किया और दावा किया कि वह तब भी कांग्रेस से जुड़े हुए थे, जब उन्होंने भाजपा से समर्थन मांगा था।

वहीं, सुधीर तांबे ने कहा कि युवा विभिन्न क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और इसलिए पार्टी ने नासिक स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से सत्यजीत तांबे जैसे युवाओं को मैदान में उतारने का फैसला किया है। तकनीकी समस्या यह है कि पार्टी ने मेरे नाम पर ‘AB’ (नामांकन) फॉर्म दिया था, लेकिन हमने नेतृत्व को पहले ही बता दिया था कि सत्यजीत चुनाव लड़ेंगे।

एबी फॉर्म चुनाव में पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवार को दर्शाता है। सुधीर ने कहा कि उन्होंने अपने चुनाव नहीं लड़ने के फैसले के बारे में पार्टी नेतृत्व को पहले ही बता दिया गया था। हमने यह फैसला पूरे विश्वास से लिया है। सत्यजीत तांबे महा विकास अघाड़ी (एमवीए) के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ेंगे।

सत्यजीत तांबे ने मांगा भाजपा से समर्थन
मीडिया से बात करते हुए सत्यजीत तांबे ने कहा, भाजपा नेता और राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मेरे स्नेहपूर्ण संबंध के बारे में सभी जानते हैं।  मैं चाहता हूं कि चुनाव में भाजपा मुझे वोट दे। उन्होंने आगे कहा, मेरे पिता सुधीर तांबे ने नासिक संभाग में शिक्षकों और स्नातकों के हितों की रक्षा के लिए कई वर्षों तक अथक प्रयास किए हैं। अगर मुझे विधान परिषद का सदस्य बनने का मौका मिलता है तो मैं उनके काम को आगे बढ़ाने का काम करूंगा।

निर्दलीय उम्मीदवार सत्यजीत तांबे ने चुनाव से पहले कांग्रेस नेताओं से मुलाकात करने के सवाल पर कहा कि वह अब भी पार्टी का हिस्सा हैं, इसलिए उन्हें कांग्रेस नेताओं से मिलने की कोई जरूरत नहीं दिखती। उन्होंने उम्मीद जताई कि विपक्षी एमवीए सहयोगियों के अलावा भाजपा को भी चुनाव में उन्हें वोट देना चाहिए। 

भाजपा समर्थन देने पर कर सकती है विचार 
वहीं, महाराष्ट्र भाजपा ने कहा है कि वह सत्यजीत तांबे को समर्थन देने पर विचार कर सकती है। एक सवाल के जवाब में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि अगर तांबे हमसे संपर्क करते हैं और समर्थन मांगते हैं, तो हम इस पर विचार कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा राज्य के सभी हिस्सों में अपना आधार मजबूत करने की कोशिश कर रही है। नासिक डिवीजन में हमारे पास मजबूत चेहरा नहीं है, इसलिए हम उन्हें अपना समर्थन दे सकते हैं।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here