35 C
Mumbai
Saturday, October 16, 2021

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

ट्रैक्टर रैली के दौरान किसान नेताओं की हत्या करने की साजिश का खुलासा, दिल्ली पुलिस ने मामले से जताई अनभिज्ञता

किसानों द्वारा ट्रैक्टर रैली के दौरान हत्या करने वाले पकड़े गए संदिग्ध ने सोनीपत के राई थाने के एक पुलिस अधिकारी का लिया नाम

नयी दिल्ली: ट्रैक्टर रैली के दौरान 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर चार किसान नेताओं की हत्या किए जाने और अशांति पैदा करने की साजिश का पर्दा फाश हुआ। सिंघू बॉर्डर पर देर रात को प्रेस वार्ता के दौरान किसान नेताओं ने एक व्यक्ति को पेश किया, उस शख्स ने दावा किया कि उसकी टीम के सदस्यों को ट्रैक्टर रैली के दौरान कथित तौर पर पुलिसकर्मी बनकर भीड़ पर लाठीचार्ज करने और मामला आगे बढ़ने पर फायरिंग करने को कहा गया है|

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

सोनीपत के राई थाने के एक पुलिस अधिकारी का लिया नाम
किसानों ने सिंघु बॉर्डर से जिस संदिग्ध को पकड़ा है, उसने कथित तौर पर सोनीपत के राई थाने के एक पुलिस अधिकारी का नाम भी लिया है। इस युवक का का कहना है कि इस अधिकारी ने 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान कुछ गलत होने पर, मंच पर बैठने वाले चार किसान नेताओं को गोली मारने की साजिश रची है। अधिकारी ने उन चार नेताओं की तस्वीर भी इस संदिग्ध से साझा कर रखी है। किसानों द्वारा पकड़े गए संदिग्ध को फिर मीडिया के सामने भी पेश किया।

ट्रैक्टर रैली के दौरान वारदात की थी योजना
युवक ने यह खुलासा किया है कि प्रदर्शनकारी किसान हथियार लेकर जा रहे हैं या नहीं, यह पता लगाने के लिए और भी दो टीमें लगाई गई हैं। वह स्वयं बीते 19 जनवरी से सिंघु बॉर्डर पर है। उसने कहा कि 26 जनवरी के दिन ट्रैक्टर रैली के दौरान उनकी योजना प्रदर्शनकारी किसानों में ही मिल जाने की थी। अगर प्रदर्शनकारी परेड के साथ निकलते तो हमें उनपर फायर करने के लिए भी कहा गया था।

मानवाधिकार अभिव्यक्ति न्यूज की चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

दिल्ली पुलिस ने मामले से जताई अनभिज्ञता
इधर इस मुद्दे पर दिल्ली पुलिस का कहना है कि इस संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। पुलिस को ऐसी कोई भी शिकायत अब तक तो नहीं मिली है। वहीं पुलिस ने यह भी कहा कि, “यदि किसानों ने किसी संदिग्ध को पकड़ा तो उसे हमें सौंपें। हम पूछताछ करेंगे।”

सोनीपत पुलिस ले गयी युवक को
दूसरी तरफ, मौके पर पहुंची हरियाणा पुलिस की एक टीम जब उक्त संदिग्ध को लेकर सिंघु बॉर्डर से निकल रही थी तो किसानों ने उसकी गाड़ी रोक ली। संदिग्ध युवक को पुलिस के वाहन से उतार लिया गया। किसान नेताओं और पुलिस की टीम के बीच एक कमरे में संदिग्ध की मौजूदगी में बातचीत हुई तब जाकर पुलिस उसे सोनीपत के कुंडली थाने ले जा पायी।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें 

क्राइम ब्रांच कर रही है पूछताछ
इसके बाद सिंघु बॉर्डर से पकड़े गए युवक को क्राइम ब्रांच के दफ्तर ले जाया गया, जहां उससे फिलहाल पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि आरोपी योगेश सोनीपत के न्यू जीवन नगर का निवासी है। यही नहीं पुलिस के मुताबिक वह 9वीं फेल है और उसका अब तक कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं रहा है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here