28 C
Mumbai
Friday, October 22, 2021

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

पुलिस ने दविस देकर किया नकली शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़, होटल संचालक समेत सात गिरफ्तार

नकली शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़, बनायी जाती थी ब्राण्डेड अंग्रेजी नकली शराब

मेरठ। कंकरखेड़ा पुलिस और एसओजी की टीम ने जिले में बड़े पैमाने पर बन रही नकली शराब का खुलासा किया है। पुलिस ने एक मकान पर छापा मारकर अवैध शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश करते हुए सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनमें एक होटल का संचालक और कंकरखेड़ा डिस्टलरी के दो गार्ड भी शामिल हैं।

एसएसपी अजय साहनी ने पुलिस लाइन में पत्रकार वार्ता करते हुए बताया कि कंकरखेड़ा थाना प्रभारी तपेश्वर सागर और एसओजी प्रभारी वरुण शर्मा ने अपनी टीम के साथ क्षेत्र के डिफेंस एंक्लेव स्थित एक मकान पर छापा मारा। जहां से पुलिस ने कासमपुर निवासी सागर उर्फ मोगली, सरधना निवासी रोहित कश्यप, ध्यानचंद नगर निवासी मोंटी उर्फ लव, हापुड़ निवासी देवेंद्र, गोरखपुर निवासी सतेंद्र, मुजफ्फरनगर निवासी हरि ओम और टंकी मोहल्ला निवासी कुलनीत उर्फ मोनू को गिरफ्तार किया।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें 

मौके से भारी मात्रा में मैकडॉवेल, रॉयल चैलेंज, ब्लेंडर प्राइड, ओल्ड मोंक और अन्य ब्रांड की नकली शराब बरामद की गई। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया कि वह पिछले तीन महीने से नकली शराब बनाने का काम कर रहे थे। नकली शराब बनाने के लिए ईएनए वीरपाल नाम का शख्स उपलब्ध कराता था।

मानवाधिकार अभिव्यक्ति न्यूज की चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

वहीं, कासमपुर डिस्टलरी में गार्ड के पद पर तैनात हरिओम और अंकित डिस्टलरी से बोतलों के बारकोड, ढक्कन और रेपर आदि शराब तस्करों को बेचते थे। मोगली, रोहित और लव कौशिक केमिकल से नकली शराब तैयार करते थे। जिसके बाद खालसा होटल का संचालक कुलनीत इस शराब को अपने और अपने जानने वाले लोगों के लोगों के होटलों पर बेचा करता था। यह नकली शराब शहर के कई ठेकों पर भी सप्लाई की जाती थी।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.

Download now

एसएसपी ने बताया कि आरोपियों से लगभग 50 लाख की नकली ब्रांडेड शराब बरामद की गई है। इसी के साथ भारी मात्रा में विभिन्न ब्रांड के बोतलों के ढक्कन, रेपर और केमिकल आदि भी बरामद किया गया है। आरोपियों के साथी संजय, अंकित, प्रदीप, कल्लू और संदीप फरार हैं। जिनकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस पूरे गोरखधंधे में शराब फैक्ट्री के कुछ अन्य कर्मचारियों और आबकारी विभाग के कर्मचारियों के भी शामिल होने की बात सामने आई है। जिसके विषय में पुलिस जांच कर रही है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here