32 C
Mumbai
Monday, December 5, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

नूपुर शर्मा का सोशल मीडिया पर समर्थन करने पर दर्जी का सिर कलम !

 उदयपुर में भीड़-भाड़ वाली सड़क पर एक दर्जी की उसके दुकान के अंदर दिनदहाड़े हत्या कर दी गई। दर्जी ने सोशल मीडिया पर निलंबित भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद पर उनकी विवादास्पद टिप्पणी को लेकर उनका समर्थन किया था। हमलावर उनकी दुकान में घुसे और उन पर कई बार खंजर से वार किए और उनका गला भी काट दिया। घटना के एक वीडियो में आरोपियों ने हत्या की जिम्मेदारी ली है। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

घटना के विरोध में उदयपुर के हाथीपोल, घंटाघर, अश्विनी बाजार, देहली गेट और मालदास स्ट्रीट की दुकानों ने अपने शटर गिरा दिए हैं।

समाचार लिखे जाने तक पीड़ित का शव दुकान के बाहर पड़ा हुआ था। मृतक के परिजनों ने मुआवजे के तौर पर 50 लाख रुपये और सरकारी नौकरी की मांग की है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

पीड़ित की पहचान कन्हैयालाल तेली (40) के रूप में हुई है, जो एक दर्जी है, जो धनमंडी में सुप्रीम टेलर्स के नाम से एक दुकान चलाता था।

मंगलवार दोपहर करीब ढाई बजे दो बदमाश कपड़े सिलने का नाप देने के बहाने उसकी दुकान में घुस गए।

जब तक कन्हैयालाल कुछ समझ पाता तब तक बदमाशों ने उन पर कई बार खंजर से हमला कर दिया, जिससे उनकी मौत हो गई।

शीर्ष पुलिस अधिकारी और एफएसएल की टीम मौके पर साक्ष्य जुटा रही है।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

इस बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

इस भीषण हत्या के बाद राजस्थान विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया ने एसपी को बुलाकर घटना की जानकारी ली।

कन्हैयालाल गोवर्धन विलास क्षेत्र के रहने वाले थे। दस दिन पहले उन्होंने नूपुर शर्मा के पक्ष में एक सोशल मीडिया पोस्ट डाला था। तभी से एक खास समुदाय के लोग उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहे थे।

लगातार धमकियों से परेशान कन्हैयालाल ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के अलावा छह दिन तक अपनी दुकान भी नहीं खोली। पुलिस ने उसे कुछ दिन संभलकर रहने को कहा था।

भीषण हत्या की खबर मिलते ही जिला कलेक्टर तारा चंद मीणा और एसपी मनोज चौधरी भी मौके पर पहुंचे।

चौधरी ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पीड़िता को मिली धमकियों के बारे में पूछे जाने पर एसपी ने कहा कि मृतक से जुड़े सभी रिकॉर्ड की जांच की जा रही है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here