29 C
Mumbai
Thursday, October 6, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

राज सायरस मिस्त्री की मौत का खोलेगी मर्सिडीज की डेटा चिप, पुलिस ने भेजा एनालिसिस के लिए जर्मनी

पालघर में सड़क हादसे में जान गंवाने वाले साइरस मिस्त्री की मौत का राज उनकी कार के डेटा चिप से खुलेगा। पुलिस ने इस मर्सिडीज बेंज एसयूवी कार की इस डेटा चिप को एनालिसिस के लिए जर्मनी भेज दिया है। गौरतलब है कि पालघर में हुए इस हादसे में साइरस मिस्त्री और जहांगीर पंडोले की मौत हो गई थी। वहीं डॉक्टर अनाहिता पंडोले और डेरियस पंडोले गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। यह हादसा रविवार दोपहर सूर्या नदी के ओवरब्रिज पर उस वक्त हुआ था जब साइरस मिस्त्री अपनी एसयूवी से अहमदाबाद से मुंबई लौट रहे थे।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

कंपनी के अधिकारियों ने निकाली चिप
पालघर पुलिस के मुताबिक कार निर्माता मर्सिडीज बेंच के अधिकारी सोमवार को घटनास्थल पर पहुंचे थे। अधिकारियों ने यहां पर क्षत-विक्षत कार से इलेक्ट्रानिक चिप निकाली। पालघर के एसपी बालासाहेब पाटिल ने बताया कि यह चिप वाहन का पूरा डाटा रिकॉर्ड करती है। अब इस चिप को एनालिसिस के लिए जर्मनी भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि हमें इस बात की उम्मीद है कि इस हफ्ते के अंत तक इससे जुड़ी रिपोर्ट आ जाएगी। 

एसपी ने यह दिया जवाब
पालघर एसपी ने बताया कि हमारे पार कार कंपनी के अधिकारियों के लिए कुछ सवाल थे। हम उन्हें यह सवाल देना चाहते थे और उसका स्पेसिफिक जवाब चाहते थे। हालांकि अधिकारियों ने कहा कि उनके पास इस तरह की एनालिसिस के लिए डिफाल्ट पैरामीटर्स हैं। इस एनालिसिस के बाद न सिर्फ इन सवालों के जवाब बल्कि इससे भी ज्यादा जानकारी सामने आएगी। इसके बाद हम सभी ने तय किया कि इस एनालिसिस रिपोर्ट का इंतजार करना ही ज्यादा बेहतर होगा। एसपी पाटिल ने बताया कि इस रिपोर्ट के आने के बाद हमें और बेहतर तरीक से जांच में मदद मिलेगी।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

यह हैं पैरामीटर्स
मर्सिडीज कंपनी के अधिकारियों ने जिन पैरामीटर्स की बात कही है, उनमें टायर प्रेशर, स्पीड, किसी तरह की खराबी, स्टीयरिंग व्हील की कंडीशन, वाहन की गति, सीट बेल्ट की हालत और एयरबैग्स की फंक्शनिंग शामिल है। पुलिस अधिकारियों की जांच में यह भी सामने आया है कि हादसे के बाद कार के सात एयरबैग्स में से केवल तीन ही खुले थे। एसपी पाटिल ने बताया कि हादसे के बाद जब हमने कार का निरीक्षण किया तो वहां सामने आया कि सामने की तरफ लगे दोनों एयरबैग पूरी तरह खुल गए थे। जबकि तीसरा एयरबैग जो साइरस मिस्त्री के ऊपर था, वह पूरी तरह से नहीं खुला था। वहीं फ्रंट सीट के पीछे लगे दोनों एयरबैग बिल्कुल नहीं खुले। बताया जा रहा है कि अगर यह दोनों एयरबैग खुल गए होते तो मिस्त्री और जहांगीर की जान बचाई जा सकती थी। पुलिस यह जानने के लिए उत्सुक है आखिर यह दोनों बैग क्यों नहीं खुले।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

पहुंचे थे छह सदस्य
पुणे स्थित मर्सिडीज बेंज की ऑफिस से सोमवार को छह सदस्यीय टीम ने घटनास्थल और क्षतिग्रस्त कार का मुआयना किया था। वहीं आरटीओ और फोरेंसिक एक्सपर्ट्स की टीम भी घटनास्थल का मुआयना कर चुकी है। पुलिस का कहना है कि अब उनकी जांच एनालिसिस रिपोर्ट के आधार पर ही आगे बढ़ेगी। वहीं आरटीओ, फोरेंसिक एक्सपर्ट्स की रिपोर्ट और चश्मदीद की गवाही जांच टीम द्वारा दर्ज की जा चुकी है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here