30 C
Mumbai
Tuesday, May 17, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

कोरोना वैक्सीन ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका पर रोक लगाने वाले देशों की दिन ‘ब’ दिन बढ़ रही है संख्या

नई दिल्ली: कोरोना वैक्सीन ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के टीके से खून का थक्का जमने के कई मामले सामने आने के बाद जर्मनी, फ्रांस, इटली, आयरलैंड और नीदरलैंड ने भी इसके इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। हालाँकि विश्व स्वास्थ्य संस्था (WHO) ने इसे सुरक्षित बताया है|

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

इटली ने भी लगाई रोक
इटली के दवा नियंत्रक ने सोमवार को एहतियाती कदम उठाते हुए एस्ट्राजेनेका के कोविड-19 रोधी टीके के उपयोग पर अस्थायी रोक लगा दी। दरअसल टीका लेने के बाद रक्त के थक्के बनने की घटनाओं संबंधी खबरें आने के बाद यह कदम उठाया गया है। इटली ने कहा कि यह फैसला अन्य यूरोपीय देशों की ओर से उठाए गए कदमों के मद्देनजर लिया गया।

टीका लगवाने के बाद शिक्षक की हुई थी मौत
इटली के उत्तरी पिडमोंट क्षेत्र में 57 वर्षीय एक शिक्षक ने शनिवार को टीका लगवाया था और रविवार सुबह उसकी मौत हो गई। इस मामले समेत अन्य ऐसे मामलों में शवों को परीक्षण के लिए भेजा गया है। फ्रांस और जर्मनी ने भी सोमवार को टीके के इस्तेमाल पर अस्थायी रोक लगा दी थी।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करे

WHO ने बताया सुरक्षित
हालांकि, एस्ट्राजेनेका और वैश्विक स्वास्थ्य अधिकारियों ने दावा किया है कि टीका सुरक्षित है। वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति एमनुएल मैक्रों ने कहा है कि फ्रांस में एस्ट्राजेनेका कोरोना वायरस टीके का इस्तेमाल एहतियात के तौर पर निलंबित किया जा रहा है। हालांकि किन वजहों से ऐसा किया जा रहा है, इस बारे में उन्होंने विस्तृत जानकारी नहीं दी।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

जर्मनी ने भी लगाई रोक
जर्मनी ने भी एस्ट्राजेनेका कोविड टीके के संभावित दुष्प्रभावों के बारे में आई खबरों के बाद इसके उपयोग पर रोक लगा दी। सरकार ने कहा है कि टीका लगाने वालों के शरीर में रक्त के थक्के जमने की खबरों के मद्देनजर यह कदम उठाया गया।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here