32 C
Mumbai
Monday, December 5, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव पास, सीनेट में पास होना बाकी !

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सीनेट में भी पास हुआ तो कभी भी दोबारा नहीं लड सकेंगे चुनाव

वाशिंगटन: ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का प्रस्ताव पास, वाशिंगटन में कांग्रेस बिल्डिंग कैपिटल हिल पर हाल ही में हुई हिंसा को उकसाने के आरोप में अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ लाये गए दूसरे ऐतिहासिक महाभियोग के प्रस्ताव को बहस के बाद बुधवार को पास कर दिया।

डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के लोकतंत्र के इतिहास में एक ही कार्यकाल में दो बार महाभियोग का सामने करने वाले अमेरिका के पहले राष्ट्रपति बन गए हैं। प्रतिनिधि सभा में 197 के मुक़ाबले 232 वोटों से महाभियोग का प्रस्ताव पास हो गया जिसमें रिपब्लकिन पार्टी के दस सांसदों ने भी महाभियोग के समर्थन में मतदान किया।

“MA news” app डाऊनलोड करें और 4 IN 1 का मजा उठायें  + Facebook + Twitter + YouTube.Download now

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सीनेट में पास होना बाकी

ट्रंप के खिलाफ सीनेट में भी यदि महाभियोग पारित हो जाता है तो वह कभी भी व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति के तौर पर पदभार नहीं संभाल सकेंगे और वर्ष 2024 में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों में भी भाग नहीं ले सकेंगे। इससे पहले पिछले वर्ष दिसंबर में भी ट्रंप पर राष्ट्रपति चुनावों में जीत हासिल करने वाले जो बाइडेन के बेटे के खिलाफ यूक्रेन पर दबाव बनाने को लेकर महाभियोग पारित किया था। सीनेट में यह महाभियोग हालांकि निरस्त हो गया था क्योंकि वहां रिपब्लिकन पार्टी बहुमत में है।

ट्रम्प समर्थकों ने फैलाई थी हिंसा
गौरतलब है कि ट्रंप के समर्थकों ने छह जनवरी को वाशिंगटन में कांग्रेस बिल्डिंग कैपिटल हिल पर हमला कर संपत्ति को नुकसान पहुंचाया था। यह हिंसक घटना उनके द्वारा व्हाइट हाउस के पास हजारों समर्थकों को संबोधित किये जाने के बाद हुयी। प्रदर्शन के दौरान भड़की हिंसा में दो महिलाओं समेत पांच लोगों की मौत हो गयी जबकि पुलिस ने इस सिलसिले में 52 लोगों को गिरफ्तार किया है।

मानवाधिकार अभिव्यक्ति न्यूज  की रोचक खबरों को पढने के लिए यहाँ क्लिक करे

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को बताया खतरा
कैपिटॉल हिल पर हुए हमले के बाद तमाम सोशल मीडिया मंचों द्वारा प्रतिबंधित किए जाने के बाद अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि देश में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पहले कभी इतने खतरे में नहीं थी। उन्होंने इस बीच अपने समर्थकों से राष्ट्रपति चुनावों में जीत हासिल करने वाले जो बाइडेन के शपथ समारोह के दौरान किसी भी तरह की हिंसा नहीं करने की अपील भी की है।

सोशल मीडिया पर प्रतिबंधित हुए ट्रम्प
इस घटना के बाद फेसबुक ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अकाउंट को कम से कम दो सप्ताह के लिए बंद रखने की घोषणा की है तथा ट्वीटर ने भी उनके अकॉउंट को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है और केवल यही नहीं यूट्यूब समेत गूगल प्ले स्टोर ने भी अपने प्लेटफार्म पर से उनसे जुड़ी एप और चैनल पर रोक लगा दी है।

रोचक खबरों के लिये यहाँ क्लिक करें 

समर्थकों से हिंसा न करने की अपील
इस बीच डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को अपने समर्थकों से राष्ट्रपति चुनावों में जीत हासिल करने वाले जो बाइडेन के शपथ समारोह के दौरान किसी भी तरह की हिंसा नहीं करने की अपील की है। व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान के अनुसार ट्रंप ने अपने समर्थकों से हिंसा और कुछ भी तनावपूर्ण नहीं करने का आग्रह किया है। इससे पहले ट्रंप ने सोमवार को जो बाइडेन के शपथ समारोह को ध्यान में रखते हुए वाशिंगटन डीसी में स्टेट ऑफ़ एमेर्जेंन्सी लगाने की घोषणा की थी।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here