27 C
Mumbai
Sunday, June 26, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

पुलिस ने नमाज़ियों को टीले वाली मस्जिद पर फूल देकर कहा शुक्रिया

राजधानी लखनऊ की टीले वाली मस्जिद में नमाज़े जुमा के दौरान पुलिस और नमाज़ियों के बीच आपसी सौहार्द का ऐसा दृश्य नज़र आया जिसकी प्रशंसा करना तो बनता ही है. क्योंकि जहाँ पर ऐसा माहौल नज़र आये वहां बवाल तो हो ही नहीं सकता। टीले वाली मस्जिद में नमाज़ तो हमेशा की तरह शांतिपूर्वक अदा ही लेकिन पुलिस ने जिस तरह नमाज़ियों का स्वागत गुलाब की कलियों से किया वह अद्भुत था. मस्जिद में आने वाले हर नमाज़ी को पुलिस और सिविल डिफेन्स के लोग लाइन में खड़े होकर उनके हाथों में उन्हें फूल पकड़ा रहे थे. यह फूल अमन और शांति का पैग़ाम दे रहे थे.

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

बता दें कि पिछले जो शुक्रवारों को जुमे की नमाज़ के बाद प्रदेश के कई शहरों में पैगंबरे इस्लाम के खिलाफ भाजपा नेता नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल की अपमानजनक टिप्पणियों के विरोध में कई हिंसक घटनाये हुई थी जिसके मद्देनजर इसबार जुमे की नमाज़ को लेकर पुलिस निहायत ही सतर्क थी. अदब की सरजमी लखनऊ में भी हाई अलर्ट था, CAA/NRC आंदोलन के दौरान हिंसक आंदोलन हो चूका था, इसलिए पुलिस प्रशासन ने पिछले दो शुक्रवारों से सबक लेते हुए काफी तैयारी की हुई था. ज़मीन से लेकर आसमान तक सिक्योरिटी के रडार में था लेकिन जिस मोहब्बत और भाईचारे का नज़ारा टीले वाली मस्जिद पर आज दिखा दरअसल शहर लखनऊ उसी के लिए जाना है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बता दें कि जुमे की नमाज से पहले पुलिस प्रशासन में तमाम मस्जिदों के बाहर भारी पुलिस फोर्स लगा रखी थी सीसीटीवी और ड्रोन के जरिए से निगरानी की जा रही थी ताकि कोई भी शरारती तत्व किसी घटना को अंजाम ना देने पाए और किसी भी प्रकार का विरोध प्रदर्शन सड़कों पर उतर कर ना होने पाए. पुलिस ने ऐसी 70 मस्जिदों को चिन्हित किया था जहाँ पर भारी संख्या में नमाज़ी आते हैं. हालात को पूरी तरह से कण्ट्रोल करने के लिए पूरे लखनऊ को 37 सेक्टरों में बांटा गया था. हालाँकि पैग़म्बरे इस्लाम के खिलाफ टिप्पणी विवाद से लखनऊ में पिछले शुक्रवारों को भी कोई घटना नहीं हुई थी लेकिन प्रदेश के दुसरे शहरों में हुए हिंसक विरोध को देखते हुए पुलिस ने कोई ढिलाई नहीं बरती। नमाज़ के बाद देश में अम्न और शांति के लिए दुआ मांगी गयी.

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here