30 C
Mumbai
Sunday, April 21, 2024

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

पुलिस पर भीड़ का हमला नशीली दवाओं के तस्करों को पकड़ने गये थे, महिला कांस्टेबल घायल; 3 आरोपी हुये गिरफ्तार

नशीली दवा तस्करों के हौंसले कितने बुलंद हो गए हैं, इसका जीता जागता उदाहरण छापेमारी से लिए गई टीम पर हुए हमले से लाया जा सकता है। महाराष्ट्र के ठाणे जिले में पुलिस लगातार नशीली दवाओं के तस्करों की गिरफ्तारी के लिए अभियान चला रही है। इसी सिलसिले में ठाणे जिले भयंदर इलाके में नशीली दवाओं के कारोबार की सूचना के बाद तलाशी के लिए पुलिस की टीम वहां पहुंची। इस दौरान अचानक भीड़ ने सर्च ऑपरेशन के लिए आई टीम पर हमला बोल दिया। गुरुवार को पुलिस अधिकारी ने मामले की जानकारी दी।

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारी ने कहा कि घटना मंगलवार रात धावगी इलाके में हुई। जहां नशीली दवाओं के तस्करों को पकड़ने के लिए पुलिस टीम गई थी। इस दौरान अचानकर भीड़  ने पुलिस पर हमला बोल दिया। घटना के बाद पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है। गौरतलब है कि इस हमले में टीम में मौजूद महिला कांस्टेबल को चोट आई, जो अभी अस्पताल में भर्ती हैं। 

तस्करों के समर्थकों ने पुलिस टीम पर बोल दिया धावा
उत्तान सागरी पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि 15 से 20 लोगों के एक समूह ने मीरा भयंदर-वसई विरार पुलिस आयुक्तालय के एंटी-नारकोटिक्स सेल (एएनसी) की एक पुलिस पार्टी पर हमला किया। जब वह एक गुप्त सूचना के आधार पर ड्रग तस्करों को पकड़ने के लिए रात नौ बजे के आसपास उनके इलाके में गई थी। । पुलिस टीम में एक महिला कांस्टेबल समेत पांच लोग शामिल थे, जिन्हें उपद्रवियों ने बांस से पीटा। उन्होंने कहा, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है और फिलहाल उनका इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि हमले में टीम के अन्य सदस्यों को भी चोटें आईं।

पुलिस टीम पर हमले के आरोप में तीन गिरफ्तार
मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपियों के खिलाफ कई गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस ने बाद में घटना में तीन लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि उनकी पहचान अब्बास अली मिर्जा, अंकुर भारती और राजू गौतम के रूप में हुई है और अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here