29 C
Mumbai
Monday, June 27, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

सावधान ! – फर्जी बेव डिजाइनरों से व यूट्यूबर (Youtuber) से, ये Youtube University डिग्री होल्डर व ज्ञानी होते हैं !! इनसे बचे… अन्यथा जेल जा सकते हैं !!!

इनसे सावधान रहें अन्यथा समय के साथ – साथ आर्थिक और मानसिक हानि पहुँच सकती है। वेब साइट के नाम पर एक कचरा पेटी ही लगेगी हाथ !

सावधान रहें ! – दोस्तों आज डिजिटल का दौर है, इस दौर में असीम संभावनायें छिपी हुई हैं । हर कोई किसी न किसी रूप में अपने आपको स्थापित करने की होड़ में लगा हुआ है। हर कोई चाहता है कि वो किसी न किसी क्षेत्र में स्थापित करके नाम के साथ अपार दौलत भी कमा सके, जिसके चलते वो कोई न कोई फील्ड चुन ही लेता है।

इसी क्षेत्र में इन दिनों यूट्यूब युनिवर्सिटी से डिग्री प्राप्त कर कुछ ऐसे वेब डिजाइनर मार्केट कार्यरत है जो 4 हजार रुपये में आपको न्यूज वेब साइट बना कर देने का दावा करते है क्योंकि आज बेरोजगारी चरम पर है तो “खाली घर शैतान का” इस कहावत को वो चरिथार्त करते नजर आ जाते हैं।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

आज के दौर में पढ़ा लिखा हो या अनपढ़ सभी के हाथों में एनरॉइड फोन होता ही है, और जब फोन हो और अनलिमिटेड डाटा आपके पास हो तो फिर कहते हैं “सोने पे सुहागा” और बन्दा अपनी उगलियो को काबू नहीं रख पाता है। क्योंकि सोशल मीडिया पर इतनी सामिग्री इकट्ठा है कि एक खोजो हजार मिलते हैं।

उसी खोज की उत्पत्ति ये फर्जी छाप वेब डिजाइनर या आप को ढूँढ लेते हैं या फिर आप इन तक पहुँच जाते हैं, ये आपको पैसे कमानें के नये नये तरीके सुझाने लगते हैं, कुछ एक्स्ट्रा स्मार्ट लोग इनमें पाये जाते हैं वो व्हाट्स अप के जारिये आप तक अपनी पहुँच बना लेते हैं और उसके बाद ये आपकी एक्टीविटी पर नज़र रख कर सुनियोजित तरीके से आप पर मधुरता से अपनी पैठ बना लेते हैं।

और इसके बाद ये अपने कार्य को अन्जाम देना शुरू करते हैं आज कल पत्रकारिता का हर एक व्यक्ति को शौख है हर कोई पत्रकार बनना चाहता है। और जिसके चलते कुछ लोग फ्री वेब साइट के माध्यम से वेब साइट बना कर कार्य भी कर रहे हैं कुछ छोटे -बड़े पत्रकार भी इसका लाभ ले रहे हैं, लेकिन यू ट्यूबर भी नई जेनरेशन को पैसे कमाने के लिये न्यूज पोर्टल को सबसे आसन तरीका बताते हैं और रास्ते भी सुझा देते हैं ।

जिसके चलते कुछ ओवर स्मार्ट व शिक्षित युवा इसे ठगी का एक सरल व सही तरीका समझते हैं उन्हे लगता है कि ठगी का इससे अच्छा और कोई तरीका हो ही नहीं सकता है। इसी में कुछ एक ऐसे शातिर अपराधी होते हैं जो पढ़े लिखे होते तो हैं लेकिन इनका ज्ञान कुछ एक्स्ट्रा होता है, सीधे – साधे लोगों को निशाना बनाने लग जाते हैं ।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

सावधान रहें – इनका फसाने का कुछ अजब-गज़ब तरीका होता है। ये चंद रुपयों में अनलिमिटेड वेब होस्टिंग पर्चेज कर के एक वेब साइट बना लेते हैं और उसके बाद शुरु हो जाता है इनका बकरा तलाशने का काम, और 4 हजार रुपये में वेबसाइट बनाने का झांसा दे कर उनसे पैसे ऐठने के लिये अनेको तरह के तर्क कुतर्क दे कर व लोक लुभावने वादे कर के एक मुस्त रक्कम ऐठने तक पीछा करते हैं, यदि बकरा सीधा और सहज हुआ तो काम तमाम कर चलते बनते हैं, साइट के नाम पर कचरा पेटी हाथ लगेगी, जरूरी ही नहीं ये न्यूज पोर्टल के नाम से ही आप तक पहुँचें ये आप की रुचि के अनुसार अटैक करते हैं, ये आप के साइट के नाम पर आपकी अनेकों जानकारियों को हासिल करने की कोशिस करते हैं।

सावधान रहें – इतना ही नहीं गूगल अकाउंट के माध्यम से आपके द्वारा सेव किये गये पासवर्ड के जरिये आपके अन्य सोशल मीडिया अकाउंट पर भी हैकिंग करने का प्रयास करते हैं, ये राजनीतिक व्यक्तियों द्वारा भी संचालित किये हुए भी हो सकते हैं इनकी कोई भी मंसा आपके लिये घातक हो सकती है, यदि आप किसी तरह का कोई न्यूज पोर्टल चलाते है या चलाना चाहते हैं तो किसी अपरचित व्यक्ति के द्वारा कोई वेबसाइट का निर्माण या अन्य कोई कार्य जैसे गूगल एड्सन या गूगल न्यूज आदि से जुडने के लिये इनसे न संपर्क ही करें न ही इनके संपर्क में आयें, अन्यथा ये आपको जटिल समस्या में उलझा सकते हैं, क्योकि ये आपसे आपका गूगल अकाउंट का पासवर्ड ले लेते हैं जिससे आपकी सारी गोपनियता की जानकारी व ईमेल पर सोशल मीडिया व अन्य पासवर्ड को रीसेट करने तक की जानकारी सहजता से उपलब्ध हो जाती है जिसका ये आसानी से दुर्पयोग कर सकते हैं और आप गूगल या अन्य सर्विस प्रोवाइडर पर क्लेम भी नहीं कर सकते हैं ! लेकिन सावधान रहें ! – यदि वो व्यक्ति (जिसे येे बकरा समझ कर हलाल करना चाहते हैं) इनका गुरु निकला और असल पत्रकार निलकला तो इनका भी काम तमाम होना निश्चित ही है, और जेल की सलाखों के पीछे जाना भी सुनिश्चित ही है फिर इन्हे इनके आका भी नहीं बचा सकते हैं।

सावधान रहें – यदि किसी भी व्यक्ति से या वेब डिजाइनर से साईट का निर्माण कराना भी चहते हैं तो वेब डोमेन व वेब होस्टिंग स्वत: पर्चेज करके ही दें व उसके लिये एक नयी ई-मेल आईडी जेनरेट कर के गूगल अकाउंट बनाये और वो दें ताकि यदि उसके साथ कोई व्यवहार करें भी तो वो आप की अन्य निजी जानकारियों तक पहुँच न बना सके।

ऐसे ही कुछ और भी यूट्यूब पर शातिर दिमाग लोग एक्टीवेट हैं। जिनका कुछ संक्षेप में परिचय दिया है ।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करे

जैसे कि यूट्यूब के माध्यम से कोई चैनल बना कर किसी न किसी प्रोडक्ट को प्रमोट करना या फिर किसी न किसी विषय में विशेष ज्ञान बाटना, वो भी किसी यूट्यूबर के ज्ञान को काट -छाट कर या अपना विशेष ज्ञान को उसमें जोड़ कर मिर्च – मसला लगा कर ज्ञान देना। जिन्हे आप अक्सर यूट्यूब पर किसी न किसी रूप में पा ही जायेंगे ।

ये ज्ञानी बाबा हो सकता है आपके गंजे सिर में बाल उगाने की सलाह देते नजर आ जायें, या आपकी तोंद को 40 इंच से 24 इंच की करने के उपाय बतलाते नजर आ जायेंगे, हो सकता है वास्तु दोष, नजर दोष, काला जादू सिखाने या उससे मुक्ती दिलाने के अनेकों तरीके बताते नज़र आ सकते, या ऐसे अनेकों उपय से बचें।

ये सब सिर्फ यूट्यूब के माध्यम से आपके बहुमूल्य समय का दुर्पयोग कर खुद पैसे कमाने के लिये सद्उपयोग करते हैं और उनमें से कुछ लोग उनके ऐसे ही लोक लुभावन वक्तव्यों में फस कर वो सब करने में अपना समय भी बरबाद करते हैं जिससे अर्थिक व शारीरिक दोनों ही प्रकार के हानि होने की संभावनायें आधिक प्रवल हो जाती हैं ।

हॉ ये एक और बात है कि सही मायने में आप जिसको फॉलो कर रहे हैं वाकई में वो उस विषय में विसारद प्राप्त है या वो सही जानकारी तथ्यों के आधार पर रखता है कि नहीं इस विषय पर भी गौर करने लायक है जरूरी ही नहीं कि हर कोई यूट्यूब युनीवर्सिटी का डिग्री होल्डर हो।

  • – रवि जी. निगम

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here