26 C
Mumbai
Monday, August 8, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

सड़क पर उतरे काले कपड़ों में मंहगाई और बेरोज़गारी के खिलाफ कांग्रेसी

महंगाई और बेरोजगारी को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान राहुल गांधी और शशि थरूर समेत कांग्रेस के कई सांसदों को पुलिस ने हिरासत में लिया। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा, ”हम शांति से राष्ट्रपति भवन जाना चाहते थे। रैली में सभी लोग राज्यसभा और लोकसभा के सांसद हैं मगर हमें जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है। महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दों को लेकर हम यहां हैं। लोकतंत्र की हत्या हो रही है।” राहुल गांधी समेत कांग्रेस के कई नेताओं को हिरासत में लेने के बाद पुलिस लाइंस किंग्सवे कैंप में रखा गया

उन्होंने आगे कहा, ”हमारा काम ये सुनिश्चित करना है कि भारतीय लोकतंत्र सुरक्षित हो। हमारा काम जनता के विषयों को उठाना है और हम अपना काम कर रहे हैं।” महंगाई-बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस का संसद से सड़क तक हल्लाबोल, काले कपड़ों में प्रदर्शन कांग्रेसी नेता कर रहे हैं. पुलिस ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा को दिल्ली में AICC मुख्यालय के बाहर से हिरासत में ले लिया. जहां वे बेरोजगारी और महंगाई को लेकर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन शामिल हुई थीं.प्रियंका गांधी के हिरासत से जुड़ी तामम वीडियो सोशल मीडिया पर वायर हो रही हैं, जिनमें पुलिस को उनको पकड़ते देखा जा सकता है. प्रियंका गांधी भी प्रधानमंत्री आवास के घेराव के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए ’24 अकबर रोड’ स्थित कांग्रेस मुख्यालय पहुंचीं थीं, जहां से उन्हें हिरासत में ले लिया गया. हिरासत में लिए जाने से पहले वह कुछ देर तक सड़क पर ही धरने पर बैठ गई थीं.

गौरतलब है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पार्टी सांसदों के साथ संसद भवन के गेट नंबर एक से विजय चौक तक मार्च किया। इस मार्च के दौरान राहुल गांधी समेत कांग्रेस के कई सांसद काले कपड़े पहने नजर आए तो वहीं मार्च में सबसे आगे चल रहे महिला सांसदों ने सब्जियों की माला पहनकर महंगाई और जीएसटी के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करवाया।

इस दौरान पी चिदंबरम ने कहा कि यह विरोध मंहगाई और अग्निपथ को लेकर है। मंहगाई सभी को प्रभावित करती है। एक राजनीतिक दल के रूप में और एक निर्वाचित प्रतिनिधि के रूप में हम जनता के बोझ के लिए आवाज उठाने के लिए बाध्य हैं।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा कि हम जनता को रास्ते पर आकर दिखाना चाहते हैं कि जो भी सरकार बेरोज़गारी, महंगाई को लेकर बोल रही है वह सब सही नहीं है। यह दिखाने के लिए हम स्वतंत्र हैं। सदन में एक बार महंगाई पर चर्चा हुई थी लेकिन सरकार ने इसको नकार दिया। एक बार वे बाज़ारों में जाकर देखें।

अजय माकन ने कहा कि महंगाई और बेरोजगारी चरम सीमा पर है। कांग्रेस पार्टी महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ देशव्यापी विरोध कर रही है। हम लोगों को हिरासत में लिया जा रहा और ये दुख की बात है कि हम सत्याग्रह भी नहीं कर सकते हैं।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here