29 C
Mumbai
Thursday, October 6, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

India GDP Q1 Data: GDP ग्रोथ, पहली तिमाही में 13.5% रही, कोर सेक्टर में भी दिखी सुस्ती

चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) आंकड़े जारी कर दिए गए हैं। राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (एनएसओ) ने बताया है कि अप्रैल से जून तिमाही के दौरान देश की विकास दर 13.5% रही जबकि पिछले साल इसी अवधि में 20.1% की वृद्धि देखी गई थी। हालांकि, इस तेजी की वजह जीडीपी का लो बेस होना था।

दरअसल, कोरोना की वजह से अप्रैल-जून 2020 तिमाही के दौरान सख्त लॉकडाउन लगा था। इस वजह से इकोनॉमी में 23 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखने को मिली थी। इसके बाद जीडीपी आंकड़ों को लो बेस के आधार पर गणना किया गया तो अप्रैल-जून 2021 में जीडीपी ग्रोथ 20 फीसदी से ज्यादा पर पहुंच गई। तब भी देश कोरोना महामारी की दूसरी लहर की चपेट में था और अधिकतर राज्यों में पाबंदियां थीं।

अनुमानों से कम है आंकड़े: हालांकि, ताजा आंकड़े आरबीआई समेत दूसरी अन्य रेटिंग एजेंसियों के अनुमान से कम हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने इस महीने की शुरुआत में अपनी मौद्रिक नीति संबंधी बैठक में कहा था कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी विकास दर करीब 16.2 प्रतिशत रहने की संभावना है।

कोर सेक्टर में सुस्ती: इस बीच, कोर सेक्टर के आंकड़े भी जारी किए गए हैं। एक साल पहले के मुकाबले जुलाई 2022 में कोर सेक्टर के आउटपुट में सुस्ती रही और इसका ग्रोथ 4.5 फीसदी पर रहा। वहीं, जुलाई 2021 में कोर सेक्टर का ग्रोथ 9.9 फीसदी रहा था। ग्रोथ की यह दर छह महीने में सबसे कम है। कोर सेक्टर की वृद्धि दर जून में 13.2 प्रतिशत, मई में 19.3 प्रतिशत, अप्रैल में 9.5 प्रतिशत, मार्च में 4.8 प्रतिशत, फरवरी में 5.9 प्रतिशत और जनवरी में चार प्रतिशत थी।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here