33 C
Mumbai
Monday, December 5, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

ट्विटर का टूलकिट मामले में जवाब देने से इंकार, दिल्ली पुलिस ने उसके कार्यालय पर ही मार दिया छापा, गजब…!

आलोचक आलोचना करे तो अव्यूज मैसेज के नाम पर फेसबुक ब्लॉक, विरोधी विरोध करे तो टूलकिट मामला, गजब की तानाशाही…!! – रवि जी. निगम

नई दिल्ली: ट्विटर का टूलकिट मामले में जवाब देने से इंकार, संबित पात्रा के ट्वीट को मैनिपुलेटेड मीडिया बताने के मामले में सोमवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ट्विटर इंडिया को नोटिस जारी कर सबूत पेश करने को कहा था. जिस पर ट्विटर ने कहा कि वह जानकारी देने के लिए बाध्य नहीं है. ट्विटर से जवाब मिलने के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ट्विटर इंडिया के लाडो सराय और गुरुग्राम ऑफिस पर रेड करने पहुंची. लाडो सराय में टीम करीब एक घंटे तक रुकी. स्पेशल सेल ने ट्विटर इंडिया के अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन जब ऑफिस का दरवाजा नहीं खोला गया तो टीम को वापस लौटना पड़ा.ट्विटर का टूलकिट मामले में जवाब देने से इंकार

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

बीजेपी ने कांग्रेस पर लगाया था आरोप

18 मई को बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा और बीजेपी के महासचिव बीएल संतोष ने चार-चार पेज के अलग-अलग दो डॉक्यूमेंट के स्क्रीनशॉट ट्वीट किए. इनमें से एक डॉक्यूमेंट कोविड-19 को और दूसरा सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट से संबंधित था. इन ट्वीट्स में दावा किया गया कि ये कांग्रेस का टूलकिट है और कांग्रेस ने देश में कोरोना महामारी को लेकर मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए ये टूलकिट तैयार किया है.

टूलकिट में क्या था
उन्होंने आरोप लगाया कि इस टूलकिट के जरिए कांग्रेस ने अपने कार्यकर्ताओं को कहा है कि मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए उन्हें धर्म विशेष को टारगेट करते हुए ‘सुपर स्प्रेडर कुंभ’ और वायरस के म्यूटेन्ट स्ट्रेन के लिए ‘मोदी स्ट्रेन’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल सोशल मीडिया पर करना है. लेकिन ईद को ‘हैप्पी सोशल गैदरिंग’ की तरह पेश करना है.

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

पात्रा के ट्वीट को ‘Manipulated Media’ बताया
संबित पात्रा के ट्वीट को बाद में ट्विटर ने ‘Manipulated Media’ बताया था. ट्विटर के इस कदम पर केंद्र सरकार ने भी नाराजगी जताई थी. सूचना प्रसारण मंत्रालय ने ट्विटर को मैनिपुलेटेड मीडिया हटाने को कहा था, क्योंकि इस मामले की जांच चल रही है. इस कारण जांच में बाधा उत्पन्न होगी. वहीं ट्विटर के इस कदम के बाद कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी नेताओं के खिलाफ तुगलकरोड थाने में शिकायत दर्ज कराई, जिसको दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को ट्रांसफर कर दिया गया था.

स्पेशल सेल ने जारी किया था नोटिस
सोमवार को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ट्विटर इंडिया को नोटिस जारी किया. नोटिस में पुलिस ने पूछा कि कंपनी के पास क्या सबूत हैं, जिसके आधार पर उसने टूलकिट से संबंधित ट्वीट को मैनिपुलेटेड ट्वीट बताया है. ट्विटर इंडिया ने दिल्ली पुलिस के नोटिस का जवाब देते हुए कहा कि हम आपको जानकारी देने के लिये बाध्य नहीं हैं, जिसके बाद आज स्पेशल सेल की टीम ने ट्वीटर इंडिया के दफ्तर पर रेड की.

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

दिल्ली पुलिस ने क्या कहा
दिल्ली पुलिस की ओर से कहा गया है कि टीम नियमित प्रक्रिया के तहत ट्विटर को नोटिस देने के लिए ट्विटर कार्यालय गई थी. यह आवश्यक था क्योंकि हम यह जानना चाहते थे कि नोटिस देने के लिए सही व्यक्ति कौन है, क्योंकि ट्विटर इंडिया के एमडी का जवाब बहुत अस्पष्ट है.

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here