32 C
Mumbai
Monday, December 5, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

AUTO i CARE के सयाजी शिंदे बने ब्रांड एंबेसडर

  • इस साझेदारी से भारत में टेक्नोलॉजी के माध्यम से 24/7 ई-गैराज सेवाएं उपलब्ध कराने वाले सबसे बड़े नेटवर्क की स्थिति और मजबूत होगी
  • ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) ने इस महामारी के दौरान एम्बुलेंस, डॉक्टर, पुलिस जैसी आवश्यक सेवाओं को सहायता प्रदान की है

लखनऊ: आपातकालीन स्थिति में 24×7 कार रिपेयर सेवा उपलब्ध कराने वाले सबसे बड़े मोबाइल ऐप, ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) ने “गाड़ी बंद, नो फ़िकर!” नामक एक नए कैंपेन की शुरुआत की है, जिसमें दिग्गज अभिनेता सयाजी शिंदे इस ऐप के जरिए कार ब्रेकडाउन होने पर सहायता उपलब्ध कराते हुए, 20 मिनट में कार मैकेनिक की सेवाएं मुहैया कराते हुए, तथा कहीं भी और कभी भी फँसे हुए वाहनों की मदद करते हुए नज़र आएंगे। आप भी इस बात से सहमत होंगे कि ब्रेकडाउन होने पर वाहन का मालिक शारीरिक व मानसिक रूप से बेहद परेशान हो जाता है, और ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) का उद्देश्य सयाजी शिंदे (saya ji shinde) को इस कैंपेन के ब्रांड एम्बेसडर बनाकर ऑन-रोड सहायता सेवाओं के बाजार में अपनी स्थिति को और मजबूतबनाया है। इस सेक्टर में पहली बार एक ऐप ने अपने ब्रांड एंबेसडर के तौर पर एक मशहूर शख़्सियत को अपने ब्रांड का चेहरा बनाया है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

इस विज्ञापन का उद्देश्य यह दर्शाना है कि, कभी भी आपकी मदद करने के लिए तैयार रहने वाला एक मददगार भाई, जिसे ‘अपना भाई’ कहा जाता है, तथा स्थापना के बाद से ही फँसे हुए वाहनों की लगातार मदद करने वाले इस ऐप के बीच बहुत सी समानताएं मौजूद हैं।

दिग्गज अभिनेता जो मुख्य धारा के साथ-साथ क्षेत्रीय सिनेमा (regional cinema) में बेहद लोकप्रिय होने के साथ-साथ पर्यावरण से जुड़े मुद्दों के लिए एक सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं, तथा उनकी सहज व स्वाभाविक छवि ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) ब्रांड के लिए एकदम सही है, क्योंकि यह ब्रांड भी उनकी तरह ही उत्साह व ऊर्जा से परिपूर्ण है। वह उस श्रेणी के अभिनेताओं में शामिल हैं, जिन्होंने अपने सरल एवं विशुद्ध भारतीय व्यक्तित्व से विज्ञापन जगत में अपना एक अलग मुकाम बनाया है। लोकप्रिय अभिनेता डिजिटल प्लेटफॉर्म (digital plateforms) के साथ-साथ विभिन्न माध्यमों में कई कैंपेन एवं विज्ञापनों में नजर आएंगे।

ग्राहकों के अनुभव एवं उनकी राय के आधार पर शुरू किए गए इस कैंपेन के बारे में बताते हुए श्री सागर जोशी, संस्थापक, ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) ने कहा, “सुनसान सड़क पर कहीं भी ब्रेकडाउन होने के बाद फँसे होने का डर, कार और बाइक मालिकों के लिए सबसे बुरा अनुभव है। ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) ने देश के विभिन्न शहरों के साथ-साथ राष्ट्रीय राजमार्गों (national highways) पर बड़े पैमाने पर अपनी उपस्थिति दर्ज की है, तथा यह 55000 से अधिक स्थानीय गैरेजों एवं मैकेनिकों से संबद्धता के साथ टेक्नोलॉजी की मदद से रोड-साइड सहायता सेवाएं उपलब्ध कराने वाला भारत का सबसे बड़ा नेटवर्क बन गया है, जो 238 राजमार्गों पर 2,28,000 किमी को कवर करता है तथा भारत के लगभग 1100 शहरों और कस्बों में अपनी सेवाएं उपलब्ध कराता है। हर 10 किलोमीटर के दायरे में 2 गैरेज ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) से जुड़े हुए हैं, जो उन्हें यात्रियों को बेहद कम समय में सहायता उपलब्ध कराने में सक्षम बनाते हैं। इस प्रकार, हम ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) के माध्यम से इस असंगठित क्षेत्र को एक ब्रांड से जोड़ने में सफल रहे हैं, और इस तरह आप अपने मोबाइल से कार की मरम्मत से जुड़ी सभी सेवाओं का अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।” उन्होंने यात्रियों से ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) ऐप डाउनलोड करने का भी आग्रह किया और कहा कि, अब कोई भी व्यक्ति बिना किसी चिंता के आराम से यात्रा कर सकता है, क्योंकि यह ऐप सड़क यात्राओं के दौरान उनका सबसे भरोसेमंद साथी होगा। श्री सागर ने आगे कहा, “पिछले साल कोविड-19 महामारी के दौरान यह ऐप एम्बुलेंस, डॉक्टर, पुलिस विभाग और इसी प्रकार की अन्य आवश्यक सेवाओं के लिए बेहद मददगार साबित हुआ है। हालांकि महामारी अभी भी मौजूद है, और हम भी अपनी ओर से समाज की सेवा का हर संभव प्रयास कर रहे हैं।”

उपयोगकर्ता इस ऐप की मदद से टायर बदलने, जंप-स्टार्ट, ईंधन की कमी, वाहन को खोलने और टो ड्राइवर के संपर्क विवरण के साथ-साथ सहायता के लिए आने वाले वाहनों की वास्तविक समय में ट्रैकिंग, मौजूद स्टेटस के बारे में ऑटोमैटेड SMS की सुविधा तथा हर प्रकार की मरम्मत जैसी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। इस ऐप के फीचर्स में नवीनतम अपडेट में निकटतम पेट्रोल पंप, इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए निकटतम चार्जिंग स्टेशन और निकटतम पे-एंड-पार्क सुविधा के बारे में जानकारी शामिल है।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

श्री सागर जोशी (sagar joshi) ने आगे बताया कि, “पहली बार रोडसाइड सहायता सेवाएं उपलब्ध कराने वाले किसी ऐप ने अपने कैंपेन के लिए ब्रांड एंबेसडर को साइन किया है। सयाजी शिंदे (sayaji shinde) इस कैंपेन का चेहरा बनने के लिए हमारी पहली पसंद थे, क्योंकि वह हमारे ब्रांड के विज़न, पहचान और मूल्यों के प्रतिनिधित्व के लिए सबसे उपयुक्त हैं। निश्चित तौर पर उनके साथ इस साझेदारी के बाद हमें बड़े पैमाने पर दर्शकों तक पहुंचने में मदद मिलेगी, और इस वित्तीय-वर्ष में 10 लाख डाउनलोड के आंकड़े तक पहुंचने की उम्मीद कर रहे हैं।” प्री-सीरीज़ फंडिंग को आकर्षित करने के बाद लोगों के लिए बेहद मददगार इस ऐप ने AI टेक्नोलॉजी पर आधारित अत्याधुनिक इनोवेशन को भी अपनाया है, तथा 100 सेवा केंद्रों के शुभारंभ की प्रक्रिया में हैं, जो अगले वित्त-वर्ष के अंत तक सभी ब्रांडों के वाहनों को अपनी सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए तैयार होंगे। वर्तमान में यह मोबाइल ऐप मुंबई, महाराष्ट्र, दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में बेहद लोकप्रिय है।

इस मौके पर अपने विचार व्यक्त करते हुए, श्री सयाजी शिंदे ने कहा, “मैं हमेशा चाहता था कि मेरे विज्ञापनों में प्रोडक्ट की जानकारी के साथ-साथ समाज को जागरूक करने की बात भी शामिल हो। ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) पूरी लगन के साथ लोगों को सड़क के किनारे सहायता सेवाएं उपलब्ध कराना चाहता है, जो बेहद सराहनीय है और यही बात मुझे बेहद पसंद आई। ‘अपना भाई’ कैंपेन मेरे इर्द-गिर्द घूमता है जिसे ‘गाड़ी बंद, नो फ़िकर ऑटो आई केयर है ना’ के मूल संदेश को दृढ़ता से स्थापित करने के लिए डिजाइन किया गया है – जो किसी भी परिस्थिति में तुरंत सहायता और निरंतर प्रदर्शन को दर्शाता है।”

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें


इस कैंपेन की संकल्पना एम्पायर मीडिया द्वारा तैयार की गई है। एम्पायर मीडिया के संस्थापक, श्री आशीष शिंदे कहते हैं, “सयाजी शिंदे का सहज व स्वाभाविक व्यक्तित्व अत्यंत आकर्षक है और वह अपने किरदारों में इसे जीवंत कर देते हैं। इसी वजह से हमने उनके चयन का निर्णय लिया, और अब अपना भाई से भी हमें वैसे ही उम्मीदें हैं। यहां ‘भाई’ यूजर-फ्रेंडली ऐप ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) के जरिए कार ब्रेकडाउन होने की स्थिति में बेहद मददगार है।”


वर्ष 2015 में ऑटो आई केयर (AUTO i CARE) की परिकल्पना की गई थी, जो इधर-उधर बिखरे और असंगठित रोडसाइड सहायता सेवाओं को एक छत के नीचे आ रहा है, ताकि यात्रियों को 20 मीटर के भीतर सहायता उपलब्ध कराई जा सके। यह ऐप ग्राहकों को पहले से योजना बनाकर कार सर्विसिंग कराने के साथ-साथ किसी भी समय कार के ब्रेकडाउन होने की स्थिति में उनकी मदद करता है।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here