30 C
Mumbai
Friday, May 20, 2022

आपका भरोसा ही, हमारी विश्वसनीयता !

"मानवाधिकर आभिव्यक्ति, आपकी आभिव्यक्ति" 100% निडर, निष्पक्ष, निर्भीक !

आशीष मिश्रा लखीमपुर खीरी कांड के मुख्य आरोपी ने सरेंडर किया 

सुप्रीम कोर्ट द्वारा लखीमपुर खीरी कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्र उर्फ सोनू और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे की ज़मानत रद्द होने के बाद आज टेनी पुत्र ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया है।

निडर, निष्पक्ष, निर्भीक चुनिंदा खबरों को पढने के लिए यहाँ >> क्लिक <<करें

आशीष के वकील अवधेश सिंह ने कहा, “आशीष ने अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया है। हमें एक सप्ताह का समय दिया गया था, लेकिन सोमवार आखिरी दिन था, इसलिए उसने एक दिन पहले आत्मसमर्पण कर दिया।” जेल अधीक्षक पीपी सिंह ने कहा कि आशीष को सुरक्षा कारणों से जेल में अलग बैरक में रखा जाएगा।

लखीमपुर खीरी में पिछले साल तीन अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध कर रहे किसानों की हिंसा के दौरान आठ लोगों की मौत हो गई थी। मृतकों में चार किसान और एक पत्रकार शामिल हैं, जिन्हें कथित तौर पर भाजपा कार्यकर्ताओं को ले जा रही कारों ने कुचल दिया था।

अधिक महत्वपूर्ण जानकारियों / खबरों के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

बाद में पुलिस ने मामले में आशीष को गिरफ्तार कर लिया था। इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने उन्हें नियमित जमानत दी थी और कहा था कि वर्तमान मामला “वाहन से टकराकर दुर्घटना” में से एक था। उनकी जमानत रद्द करते हुए, सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पीड़ितों को इलाहाबाद उच्च न्यायालय में “निष्पक्ष और प्रभावी सुनवाई” से वंचित कर दिया गया, जिसने “सबूतों के बारे में अदूरदर्शी दृष्टिकोण” अपनाया।

‘लोकल न्यूज’ प्लेटफॉर्म के माध्यम से ‘नागरिक पत्रकारिता’ का हिस्सा बनने के लिये यहाँ >>क्लिक<< करें

चार किसानों को गाड़ी के कुचलने के आरोपी आशीष मिश्र को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद एसआईटी ने आशीष के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की सिफारिश की थी, साथ ही जमानत का विरोध भी किया था, लेकिन चार महीने जेल में रहने के बाद आरोपी आशीष मिश्र को हाईकोर्ट से कुछ शर्तों के साथ जमानत मिल गई।

ताजा खबर - (Latest News)

Related news

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here